0 0
Read Time:1 Minute, 55 Second

वकीलों ने 10 दिन पहले एक एडवोकेट के परिवारजनों के साथ हुई मारपीट के मामले में कार्रवाई की मांग को लेकर SP ऑफिस के बाहर किया विरोध प्रदर्शन किया । बार एसोसिएशन सवाई माधोपुर के अध्यक्ष जगन्नाथ चौधरी ने बताया कि 23 अक्टूबर को कुछ असामाजिक तत्वों ने एडवोकेट रामजीलाल चौधरी व उनके परिवार के सदस्यों के साथ मारपीट की थी।

मारपीट में एडवोकेट रामजीलाल चौधरी व उनका बेटा युवराज चौधरी घायल हो गया था। इस दौरान युवराज चौधरी के सिर में सात टांके आए थे। जिसकी रिपोर्ट मानटाउन थाने में दर्ज कराई गई थी। अध्यक्ष ने बताया कि पुलिस ने मामले में मारपीट और गाली-गलौज की सामान्य धाराएं लगाई हैं।

अभिभाषक संघ सवाई माधोपुर के सचिव तपेश जैन एडवोकेट ने बताया कि संघ के अधिवक्ता एवं उसके परिवारजन के साथ हुई जानलेवा हमला, मारपीट के नामजद आरोपियों के विरुद्ध संगीन धाराओं में मुकदमा कायम किए जाने और नामजद आरोपियों को गिरफ्तार किए जाने तक के लिए कार्य बहिष्कार का निर्णय लिया, निर्णय अनुसार तीन दिवसीय 4 नवंबर 2022 तक के लिए रखा गया है जिसमे न्यायिक कार्यवाही का बहिष्कार घोषित किया गया है, उक्त समय अवधि तक अधिवक्ता किसी भी न्यायालय में पैरवी नहीं करेंगे।

Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleepy
Sleepy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %

Average Rating

5 Star
0%
4 Star
0%
3 Star
0%
2 Star
0%
1 Star
0%

Leave a Reply

Your email address will not be published.