0 0
Read Time:3 Minute, 16 Second

सवाई माधोपुर 14 सितम्बर। भारत सरकार के सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय के केन्द्रीय संचार ब्यूरो के क्षेत्रीय कार्यालय सवाई माधोपुर द्वारा हिन्दी दिवस के अवसर पर जिला मुख्यालय के लिटिल स्टार इंगलिश स्कूल सवाई माधोपुर में हिन्दी के महत्व पर संगोष्ठी एवं निबन्ध प्रतियोगिता का आयोजन किया गया।
संगोष्ठी में ब्यूरोे के प्रभारी नेमीचन्द मीना द्वारा उपस्थित छात्र-छात्राओं को बताया कि भारत में अधिकतर क्षेत्रों में ज्यादातर हिन्दी भाषा बोली जाती थी इसलिए हिन्दी को राष्ट्रभाषा बनाने का निर्णय लिया इसी निर्णय के महत्व को प्रतिपादित करने तथा हिन्दी को हर क्षेत्र में प्रसारित करने के लिए वर्ष 1953 से पूरे भारत में 14 सितम्बर को प्रतिवर्ष हिन्दी दिवस के रूप में मनाया जाता है। हिन्दी के महत्व पर जोर देने के लिए और हर पीढी के बीच इसको बढावा देने के लिए हर साल इस दिन को हिन्दी दिवस के रूप में मनाया जाता है। आज देश में हर जगह अंग्रेजी भाषा ने कब्जा जमा लिया है। इसमें कोई शक नही है कि अंग्रेजी अंतर्राष्ट्रीय बातचीत के लिए जरूरी है। हमें अपनी राष्ट्रभाषा को बचाने के लिए कदम उठाने होगें।
कार्यक्रम में विद्यालय के निदेशक रविन्द्र कुमार जैन ने बताया कि भारत की संविधान सभा ने हिन्दी भाषा को राजभाषा का दर्जा प्रदान किया गया था तब से इस भाषा के प्रचार-प्रसार के लिए प्रतिवर्ष 14 सितम्बर को हिन्दी दिवस मनाने की शुरूआत हुई थी। 14 सितम्बर 1949 को संविधान सभा ने हिन्दी को राजभाषा के रूप में अपनाया गया था। दुनिया में हर देश की अपनी भाषा है उसे राष्ट्रभाषा कहते है। कार्यक्रम में शिमला जैन रघुनन्दनसिंह ने भी हिन्दी भाषा पर अपने विचार व्यक्त किये।ं
इस अवसर पर निबन्ध प्रतियोगिता का आयोजन किया गया हिन्दी के महत्व पर आयोजित निबन्ध प्रतियोगिता आयोजित की गई जिसमें विजेता प्रतिभागी क्रमशः अमन मिर्जा,दिव्या गौतम,सन्नी बैरवा ने प्रथम द्वितीय व तृतीय पुरस्कार प्रदान किये गये एवं गौरव सैनी व लवकुश यादव को ब्यूरो द्वारा सांत्वना पुरस्कार दिये गये।

Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleepy
Sleepy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %

Average Rating

5 Star
0%
4 Star
0%
3 Star
0%
2 Star
0%
1 Star
0%

Leave a Reply

Your email address will not be published.