0 0
Read Time:3 Minute, 45 Second

प्रधानमंत्री खरीफ फसल बीमा योजना में अधिक से अधिक किसानों को करें लाभांवित

सवाई माधोपुर 1 जुलाई। प्रतिकूल मौसम या प्राकृतिक आपदा से फसल खराब हो जाती है तो किसानों को प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना से बीमित राशि दी जाएगी। इसके लिए किसान प्रधानमंत्री खरीफ फसल बीमा योजना में बीमा करवाकर योजना का लाभ ले सकते है। ये बात जिला कलेक्टर राजेन्द्र किशन ने गुरूवार को कलेक्ट्रेट परिसर में फसल बीमा जागरूकता रथों को हरी झंडी दिखाकर रवाना करने से पूर्व कही।
जागरूकता रथ प्रत्येक तहसील के गांवों में पहुंचकर किसानों को प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के बारे में जानकारी देंगे तथा जागरूक करेंगे। उन्होंने गुरूवार को 6 जागरूकता रथों को रवाना किया तथा कार्यक्रम के अनुसार प्रत्येक गांव में जाकर किसानों को योजना के बारे में जागरूक करने के निर्देश दिए।
जिला कलेक्टर ने बताया कि जिले में प्रधानमंत्री खरीफ फसल योजना के तहत बाजरा, उड़द, मुंगफली, ग्वार, धान, सोयाबीन एवं तिल की फसल को बीमा के लिए अधिसूचित किया गया है। इसके तहत किसानों को बीमित राशि का 2 प्रतिशत प्रीमियम देना होगा। प्रधानमंत्री खरीफ फसल बीमा योजना के आवेदन की अंतिम तिथि 31 जुलाई 2021 रखी गई है। योजना में ऋणी कृषक (स्वैच्छिक), गैर ऋणी कृषक एवं बंटाईदार कृषक फसल बीमा करवा सकते है।
खराबा होने की स्थिति में 72 घंटे में दी जाए सूचना:- बीमित किसानों को प्रधानमंत्री खरीफ फसल योजना में लाभांवित होने के लिए प्राकृतिक आपदा या अन्य कारण से फसल में खराबा होने की स्थिति में 72 घंटे में अधिकृत बीमा कंपनी बजाज आलियांज के टोल फ्री नंबर 18002095959 के साथ ही कृषि विभाग के नजदीकी कार्यालय में सूचना देनी होगी। सूचना के बाद दस दिन मंे सर्वे कार्य बीमित कंपनी द्वारा करवा लिया जाएगा तथा 15 दिवस में बीमा की मुआवजा राशि का भुगतान किया जाएगा। उन्होंने बताया कि जिले के अधिसूचित फसल की बीमित राशि का दो प्रतिशत प्रीमियम देना होगा।
जिला कलेक्टर ने बीमा कंपनी, कृषि विभाग के अधिकारियों एवं बैंक अधिकारियों से कहा कि आपसी समन्वय एवं सहभागिता के साथ कार्य करते हुए किसानों का अधिक से अधिक पंजीयन योजना में करवाकर लाभांवित करवाएं। इसके लिए प्रचार रथ नियमित रूप से गांवांे में जाकर किसानों को प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के बारे में जागरूक करें। जागरूकता रथ को हरी झंडी दिखाकर रवाना करने के समय कृषि उप निदेशक राधेश्याम मीना, सहायक निदेशक कृषि चंद्रप्रकाश बडाया, बीमा कंपनी बजाज एलियांज के कुमार सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleepy
Sleepy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %

Average Rating

5 Star
0%
4 Star
0%
3 Star
0%
2 Star
0%
1 Star
0%

Leave a Reply

Your email address will not be published.