0 0
Read Time:3 Minute, 6 Second

जयपुर:  राजस्थान में पिछले 24 घंटों के दौरान पूर्वी हिस्सों के अनेक स्थानों पर हल्की से मध्यम और कहीं कहीं पर भारी से अति भारी बारिश हुई. इस दौरान सर्वाधिक बारिश झालावाड़ के अकलेरा में 131 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई. मौसम विभाग ने आगामी 24 घंटों के दौरान अलवर, जयपुर, झुंझुनूं, सवाईमाधोपुर, सीकर, टोंक, चूरू, जैसलमेर और नागौर में मेघ गर्जन के साथ भारी बारिश का ‘येलो अलर्ट’ जारी किया है. जोधपुर और बीकानेर में मेघ गर्जन और वज्रपात की संभावना जताई गई है.

विभाग के प्रवक्ता ने बताया कि आज सुबह साढे आठ बजे तक पिछले 24 घंटे में झालावाड़ के अकलेरा में 13 सेंटीमीटर, कोटा के मंडाना में 12 सेंटीमीटर, चित्तौड़गढ़ के भैंसरोडगढ़ में 11 सेंटीमीटर, भीलवाड़ा के बिजोलिया में 11 सेंटीमीटर, झालावाड़ के मनोहर थानाक्षेत्र में 10 सेंटीमीटर बारिश दर्ज की गई.उन्होंने बताया कि शुक्रवार को सुबह से शाम साढ़े पांच बजे तक कोटा में 63.4 मिलीमीटर (मिमी), चित्तौड़गढ़ में 12.5 मिमी, वनस्थली में 10 मिमी, डबोक में 12.8 मिमी, टोंक में 17 मिमी, बांरा के अंता में 10.5 मिमी, सिरोही में 8.5 मिमी, बाडमेर-अजमेर में 2.7-2.7 मिमी, सीकर में दो मिमी, जालौर में 3 मिमी, करौली में 3.5 मिमी बारिश दर्ज की गई.

जयपुर मौसम केन्द्र के प्रभारी राधेश्याम शर्मा ने बताया कि उत्तरी बंगाल की खाड़ी और आसपास के क्षेत्रों में 13 अगस्त को एक नया दबाव तंत्र बनने की प्रबल संभावना है. उनके अनुसार तत्पश्चात इसके धीरे-धीरे उड़ीसा, छत्तीसगढ़ और मध्यप्रदेश से होते हुए पश्चिम दिशा की ओर आगे बढ़ने की भी संभावना है.उन्होंने कहा कि इस तंत्र के असर से राज्य के अधिकांश भागों में 15 अगस्त से एक बार पुनः बारिश की गतिविधियों में बढ़ोतरी होगी तथा 15 एवं 16 अगस्त के दौरान कोटा, उदयपुर, अजमेर, जोधपुर संभाग के जिलों में कहीं-कहीं भारी बारिश एवं एक-दो स्थानों पर अति भारी बारिश भी होने की संभावना है.शर्मा का कहना है कि शेष संभागों में भी मध्यम दर्जे की बारिश होने की संभावना है.

Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleepy
Sleepy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %

Average Rating

5 Star
0%
4 Star
0%
3 Star
0%
2 Star
0%
1 Star
0%

Leave a Reply

Your email address will not be published.